The CBSE board has not yet decided to reduce the syllabus of the 10th and 12th by 50 percent, CBSE asked for opinion from all schools regarding syllabus reduction | 10वीं- 12वीं का सिलेबस 50 प्रतिशत कम करने पर बोर्ड ने अभी नहीं लिया फैसला, सभी स्कूलों से CBSE ने सिलेबस को लेकर मांगी राय

[ad_1]

  • Hindi News
  • Career
  • The CBSE Board Has Not Yet Decided To Reduce The Syllabus Of The 10th And 12th By 50 Percent, CBSE Asked For Opinion From All Schools Regarding Syllabus Reduction

8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
untitled 1603362089

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (‌CBSE) की 10वीं- 12वीं में 50 फीसदी सिलेबस कम नहीं किया जाएगा। सिलेबस को 50 फीसदी कम करने को लेकर बोर्ड की ओर से अभी तक कोई फैसला नहीं किया गया है। फिलहाल, बोर्ड ने सभी स्कूलों से सिलेबस को लेकर राय मांगी गई है। इससे पहले CBSE ने लॉकडाउन के बच्चों की पढ़ाई के नुकसान को देखते हुए जुलाई में सीबीएसई ने पाठ्यक्रम में 30 फीसदी की कटौती करने की घोषणा की थी।

बोर्ड ने जारी किए सैंपल क्वेश्चन पेपर

बोर्ड ने 10वीं- 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए बचे हुए 70 फीसदी पाठ्यक्रम के साथ सैंपल क्वेश्चन पेपर भी जारी किया है। स्टूडेंट्स CBSE की ऑफिशियल वेबसाइट cbseacademic.nic.in के जरिए 10वीं- 12वीं के सभी विषयों के सैंपल क्वेश्चन पेपर डाउनलोड कर सकते हैं। 12वीं में भौतिकी, रसायन शास्त्र, गणित, राजनीति शास्त्र, अकाउंटेंसी और अर्थशास्त्र के सिलेबस को और दसवीं में सोशल साइंस, गणित और सामाजिक विज्ञान के सिलेबस को और कम किया जा सकता है।

10वीं वार्षिक परीक्षा 2021 के क्वेश्चन पेपर में कई बदलाव

अधिकारियाें के मुताबिक CBSE ने 10वीं एनुअल एग्जाम 2021 के क्वेश्चन पेपर पैटर्न में कई बदलाव किए हैं। मैथ्स से मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन (एमसीक्यू) को हटा दिया गया है। स्टूडेंट्स को अब एक मार्क के सवाल का जवाब बहुत कम शब्दों में देना होगा। वहीं, साइंस में दो मार्क्स के क्वेश्चन को हटा दिया गया है। अब सिर्फ एक, तीन और पांच मार्क्स के क्वेश्चन पूछे जाएंगे।

12वीं के क्वेश्चन पेपर में भी बदलाव

सामाजिक विज्ञान में भी विकल्प वाले प्रश्नों की जगह सिर्फ वेरी शॉट क्वेश्चन रहेंगे। इससे पहले बोर्ड ने 12वीं के क्वेश्चन पेपर पैटर्न में भी बदलाव किया है। यह बदलाव लॉकडाउन में स्टूडेंट्स की तैयारी ठीक से नहीं होने के कारण किए गए हैं। अब वेरी शॉट क्वेश्चन की संख्या भी 20 से घटाकर 16 कर दी गई है। साइंस में छह क्वेश्चन बढ़ाए गए हैं, तो मैथ्स में चार क्वेश्चन कम पूछे जाएंगे।

पहली बार 10वीं और 12वीं में गणित का एक जैसा पैटर्न

बोर्ड ने पहली बार 12वीं के क्वेश्चन पेपर पैटर्न पर 10वीं का क्वेश्चन पेपर बनाया है। इससे मैथ्स पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को प्लस टू में आसानी होगी। सेंट माइकल हाई स्कूल के मैथ्स के शिक्षक संजय कुमार ने बताया कि पहली बार ऐसा होगा जब 10वीं के क्वेश्चन पेपर का पैटर्न 12वीं के जैसा रहेगा। बेसिक और स्टैंडर्ड मैथ का पैटर्न एक जैसा रहेगा। बोर्ड ने यह स्पष्ट कर दिया है कि प्रश्न सारे आसान रहेंगे ताकि स्टूडेंट्स काे इन्हें सॉल्व करने और समझने में आसानी हाे।

[ad_2]

Leave a Reply