सूबे की सरकार ने प्राइवेट लैब की टेस्टिंग फीस घटाई, विदेश से आने वाले हर यात्री के लिए एंटीजन टेस्ट अनिवार्य

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab, Fight With Covid 19: State Government Reduced The Testing Fees Of Private Lab, Made RAT Necessary For Every Traveler Coming From Abroad.

जालंधर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
balbeersingh 1600870452

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू सरकार की नई गाइडलाइन के बारे में बात करते हुए।

  • प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने की सरकार के नए फैसले के बारे में जानकारी
  • आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए 1600, ट्रूनेट के लिए 2 हजार और सीबी नेट का रेट 2 हजार 400 रुपए तय किया
  • आरएटी के बाद विदेश से आने वाले लोग अपने जिलों के प्रोटोकोल के अनुसार भारत पहुंचने से 5वें दिन कोविड-19 के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट कराएंगे

पंजाब में कोरोना काल में प्राइवेट लैबोरेट्रीज की मुनाफाखोरी पर नकेल कसने के लिए प्रदेश की सरकार ने कोविड टेस्टिंग के रेट घटा दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि कोई भी प्राइवेट लैब कोविड के आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए 1 हजार 600 रुपए (समेत जीएसटी टेक्स, कागजी कार्यवाही और रिपोर्टों) से अधिक पैसे नहीं ले सकती। सभी प्राइवेट लैब को कोविड 19 के ट्रूनेट टेस्ट के लिए 2 हजार रुपए और सीबी नेट टेस्ट का रेट 2 हजार 400 रुपए तय किए गए हैं। दूसरी ओर विदेश से आने वाले लोगों के लिए रैपिड एंटीजन टेस्टिंग किट से जांच करानी जरूरी कर दी गई है।

स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि सभी प्राइवेट लैबोरेटरीज को कोविड टेस्टों के रेटों को लिखित रूप में दिखाने के लिए भी हिदायत की गई है जिससे रेट आसानी से पढ़े जा सकें। घर जाकर नमूने लेने के लिए अलग से खर्चा लैब द्वारा निर्धारित किया जा सकता है, लेकिन प्राइवेट लैब को सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। निजी लैब कोविड-19 के टेस्टों के नतीजों के आंकड़े राज्य सरकार के साथ सांझे करेंगी और समय पर आईसीएमआर पोर्टल पर अपलोड करेंगी। सैंपल रैफरल फार्म (एसआरएफ) के मुताबिक नमूना लेते समय टैस्ट करवाने वाले व्यक्ति की पहचान, पता और प्रमाणित मोबाइल नंबर नोट करना लाजमी है। नमूना लेते समय आरटी-पीसीआर ऐप्प और डाटा अपलोड किया जाना चाहिए।

उधर, स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी दी कि आरएटी के बाद विदेश से आने वाले लोग अपने जिलों के प्रोटोकोल के अनुसार भारत पहुंचने से 5वें दिन कोविड-19 के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट कराएंगे। अगर रिपोर्ट निगेटिव आती है तो घरेलू एकांतवास खत्म हो जाएगा। ऐसे व्यक्ति अगले 7 दिन के लिए अपनी स्वास्थ्य की खुद निगरानी करेंगे और अगर कोई लक्षण दिखाई देता है तो वह स्वास्थ्य विभाग को रिपोर्ट करेंगे। अगर कोविड-19 के लिए आरटी-पीसीआर पॉजिटिव पाया जाता है तो उनकी डॉक्टरी तौर पर जांच की जाएगी और पंजाब कोविड-19 प्रबंधन प्रोटोकोल का पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह संशोधित दिशा निर्देश पंजाब के सभी डिप्टी कमीशनरों और सिविल सर्जनों को जारी किए गए हैं।

0

[ad_2]
Source link

Leave a Reply